देहाती खेत वाली बीएफ

Image source,गांड चुदाई बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

sar सेक्सी वीडियो: देहाती खेत वाली बीएफ, मैंने उसको उठाया ओर धीरे से बिस्तर पर लिटाया फिर से चूमने लगा।अब मेरे हाथ धीरे-धीरे उसके शरीर के सारे अंगों को छूने लगे।उसके शरीर से एक अलग ही किस्म की कंपन मुझे महसूस हुई।मुझे कुछ समझ में तो आया पर मैंने सर झटक दिया।मैं अब उसके मम्मों को ऊपर-ऊपर से ही मसलने लगा। मैंने उसकी साड़ी और पेटीकोट को उतार कर फेंक दिया।अब वो सिर्फ ब्रा पैन्टी में थी.

नागपुर बीएफ

जो मेरा लण्ड किसी लॉलीपॉप की तरह चूस रही थी।उफ़…कितनी मादक है मेरी बहन… मैं उसके मम्मे दबाने लगा।वो खड़ी हुई और मुझसे लिपट गई… मेरा लण्ड उसके पेट के साथ छुआ तो…उसको दुबारा ठरक चढ़ गई।मैंने उसको एक चुम्मी की- उम्म्माआहह… बानू अब तो खाना पका…मैं ज़रा शावर ले कर आता हूँ… बाकी काम खाने के बाद…मैं बाथरूम में चला गया. भाई-बहन की बीएफ चुदाईदेख कोई मसला बन गया तो बदनामी हो जाएगी और साना ने अपना अम्मी को बोला तो पूरी कुनबे में हंगामा हो जाएगा।लेकिन हसन ने कहा- तुम बोलो तो.

पीछे से हाथ डाल कर मेरे मम्मों पर रख कर दबाने लगा।‘आहह… उम्म्म्म…’ मेरी सिसकारियाँ निकलने लगीं।उसने मेरा ब्लाउज उतार दिया… एक हाथ से मम्मों को दबाता और दूसरे हाथ को मेरे पेटीकोट में डाल कर मेरी चूत को सहला रहा था।‘आह… उफफफ्फ़… और करो. मां बेटी का बीएफ फिल्मलाख कोशिश के बाद भी राधा की चीख दबा नहीं पाया और पूरा कमरा राधा की सिसकारियों से गूँज उठा।मुझे डर था किसी ने सुन ना लिया हो… पर अब वो बाद में देखा जाएगा।थोड़ी देर बाद दर्द कम हुआ तो राधा भी मेरा साथ देने लगी.

पर मन कर रहा था जैसे उसको देखता ही जाऊँ।थोड़ी देर बाद हम बातें करते-करते चाय पीने लगे और मैं उसको मस्त निगाहों से देखने लगा.देहाती खेत वाली बीएफ: जाते वक़्त बोला- अमेरिका से आने के बाद मेरे बच्चे की शक्ल देखूँगा।वो चला गया… 9 महीने 18 दिन के बाद मैंने एक खूबसूरत से लड़के को जन्म दिया.

खास करके अपनी गाण्ड पर लगाई।फिर रेजर से पूरे शरीर के बाल निकाल दिए।अपने चिकने बदन को देखकर मैं खुद ही शर्मा गया.आज आपने अपनी साली को वो सुख दिया है जिसके बारे में मैं बिल्कुल अंजान थी… अब मुझे इसी तरह रोज चोदिएगा.

बीएफ+वीडियो+सोंग+लिरिक्स - देहाती खेत वाली बीएफ

अब जा…दोनों वहाँ से अलग-अलग हो गए और घर की तरफ़ जाने लगे।चलो दोस्तों आपको पता चल गया ना कि दीपाली के जाने के बाद इन दोनों ने क्या किया था।अब वापस कहानी को वहीं ले चलती हूँ.यह विकास सर की पत्नी है, दिखने में बड़ी खूबसूरत है, इसका फिगर 34″ 32″36″ है।इनकी शादी को 3 साल हो गए हैं।दोनों बेहद खुश रहते हैं।अरे यार आप अनुजा को भूल गए.

जिससे माया का जोश और बढ़ गया।अब वो जोर-जोर से अपनी कमर हिलाते हुए मेरे लौड़े पर अपनी चूत रगड़ने लगी और अब वो किसी भिखारिन की तरह गिड़गिड़ाने लगी- राहुल अब और न तड़पा… डाल दे अन्दर.देहाती खेत वाली बीएफ वो और गर्म होती जा रही थी।फिर धीरे से मैंने अपना हाथ उसकी नाइटी में डाल कर उसके रसभरे सन्तरे दबाने लगा।हम दोनों चूमते-चूमते बिस्तर पर आ गए और फिर मैंने पायल को लेटा दिया और उस पर चढ़ कर उसे चूमता रहा।फिर नाइटी के ऊपर से उसके चूचे दबाने लगा.

उसकी नज़रें साफ बता रही थीं कि वो तुझे आज कच्चा खा जाएगा।रानी- सच्ची विजय आएगा… कसम से कल कुत्ते ने बड़ी बेदर्दी से मेरी गाण्ड मारी थी.

शादीशुदा औरतों का बीएफ?

देहाती खेत वाली बीएफ दर्द से वो तड़प रही थी।फिर कुछ देर सहलाने के बाद वो थोड़ी देर में अपनी कमर उठा कर साथ देने लगी।मैंने अपना मूसल आगे-पीछे करना शुरू किया।ऐसा लगा रहा था.

हिंदी बीएफ सेक्स देहाती?चुदाई सेक्सी वीडियो भाभी

देहाती खेत वाली बीएफ और मैंने उसको अपने साथ बैठने के लिए बोला पर उसने मना कर दिया।सभी दोस्त मेरे ऊपर हँसने लगे।बोले- ले जा बैठा के…तभी मैंने कहा- तुम लोग शर्त लगा लो.

बाप बेटी वाला बीएफ

पर अब भी वो मेरे हलब्बी लंड को लेने की हिम्मत नहीं जुटा पा रही थी।अचानक तीसरे दिन मुझे पिताजी ने बुलवा लिया।मुझे कुछ दिनों के लिए न्यूयॉर्क जाना था और वहाँ एक बड़ी कंपनी का एक्सपोर्ट का ऑर्डर मिलने वाला था।पिताजी जा नहीं सकते थे इसलिए मुझे जाना था।मैं उस दिन ही चला गया और जाते हुए मैं नीलम से मिला। वो मुझसे लिपट कर रोने लगी।मैंने कहा- रानी मैं 15-20 दिन में ही लौट आऊँगा.!’मैं खुद नहीं समझ पाया कि मेरे मुँह से ये शब्द कैसे निकल गए।वो मुस्कुराई और मेरे सर के पीछे हाथ रखा और मेरा सर खींच कर अपने स्तन के पास ले गई और मैंने बड़े प्यार से उनका निप्पल अपने होंठों में पकड़ लिया और ज़ोर से चूस लिया।मेरा मुँह उनके दूध से भर गया.

देहाती खेत वाली बीएफ अब इसी तरह कुछ देर तक ऊँगली अन्दर-बाहर करते रहो।मैं भाभी के कहे मुताबिक ऊँगली जड़ तक अन्दर-बाहर करने लगा।मुझे इसमें बड़ा मज़ा आ रहा था।भाभी भी कमर हिला-हिला कर मज़ा ले रही थीं।कुछ देर यूँ ही मज़ा लेने के बाद भाभी बोलीं- चलो राजा आ जाओ मोर्चे पर.

बीएफ सेक्सी वीडियो देखना

बिहारी बीएफ दिखाएंवहाँ जाकर सब समझ जाएगी।पापा मुझे टैक्सी में बिठा कर घर से ले गए। हम करीब 25 मिनट तक चलते रहे उसके बाद हम एक फार्म-हाउस पर पहुँचे, जो दिखने में काफ़ी आलीशान लग रहा था।दरवाजे के अन्दर जाते ही दरबान ने हमें सलाम किया और हम अन्दर चले गए।दोस्तो, अन्दर एक बहुत ही बड़ा घर था मैं तो बस देखते ही रह गई।पापा- देखो रानी कोई गड़बड़ मत करना.

बस ज़रूरत यह जानने की होती है कि किस औरत का काम कहाँ से जागता है।सो मैंने उसको खोजना शुरू किया था।मैंने उनकी गर्दन और कान के नीचे के हिस्से पर होंठों से और जीभ से चाटना और काटना शुरू किया और मामी ने अंगड़ाई लेने शुरू कर दी।तभी उन्होंने उठ कर मुझसे कान में बोला- इधर कोई जाग जाएगा.अब फिर से भूख लग गई है।ये कह कर मैंने फिर से उसका स्तन मुँह में ले कर चूसना शुरू कर दिया।मैंने देखा कि छोटू दूध पीकर सो गया है और निप्पल भी उसके मुँह से निकल गया है।मैंने मामी से कहा- मामी ज़ी.

फिर मैं और सुनील होटल से बाहर आए सुनील के साथ बाइक पर बैठ कर चल दी।रास्ते में सुनील बोला- जयदीप जी बोल रहे थे कि नेहा बहुत मस्त लौंडिया है, उसकी शादी जरूर हुई है, पर बिल्कुल कोरा माल है.

छोड़ो मुझे…मैंने सुपारा उसकी नाज़ुक चूत पर टिकाया और दबाना शुरू कर दिया। रूपा बोली- थोड़ा दुखेगा बेटी.

अचानक वो और ज़ोर ज़ोर से रोने लगी।मुझे कुछ समझ नहीं आया कि क्या करूँ… तो मैंने उसे अपनी बाहों में भर लिया और वो जी भर कर रोती रही।कुछ देर बाद वो चुप हो गई पर मेरी बांहों में ही पड़ी रही।फिर मुझे लगा कि उसकी साँसें जोर ज़ोर से चल रहीं हैं. Tere Ber Tod Kar Choot Chod Kar Rahungaहैलो दोस्तो, मैं चन्दन अपनी आगे की कहानी लेकर फिर से हाजिर हूँ।सबसे पहले सभी पाठकों का धन्यवाद जिन्होंने मेरी कहानी को सराहा।मेरी कहानी ‘जुरमाना क्या दोगे’ को आप लोगों ने बहुत प्यार दिया।मुझे बहुत मेल आए और सबने आगे की कहानी की पूछी।तो दोस्तो, मैं अपनी और रूचि की कहानी बारे में आगे बताता हूँ।हम लोग पूरे मज़े से चुदाई कर रहे थे.

खुराना बीएफ कल तुम कब आए और इतनी देर मैंने तुम्हारे साथ एक ही बिस्तर पर गुजार दिए… पता नहीं दूध वाला आया होगा और घंटी बजा कर चला भी गया होगा.

बीएफ फिल्म दिखाइए नंगी

देहाती खेत वाली बीएफ: और बोला- अरे उसने अपना कौमार्य एक कुँवारी लड़की के साथ खोया…तो इस पर माया रोने लगी और मुझसे रूठ कर दूसरी ओर बैठ गई।मैंने फिर उसके गालों पर चुम्बन करते हुए बोला- यार तुम भी न.’ की आवाज़ के साथ अपनी गांड को मेरे लौड़े पर दबाते हुए अपनी पीठ को मेरे सीने से चिपका कर अपनी गर्दन दाएं-बाएं करने लगी।दोस्तों इस अद्भुत आनन्द की घड़ी में मैंने महसूस किया जैसे मैं बिना पंख के ही आसमान में सबसे तेज़ उड़ रहा हूँ।मुझे भी होश न रहा और मैं बिना लोअर उतारे ही उसकी गांड मैं लण्ड रगड़ते हुए झड़ गया।जब मुझे मेरे ही वीर्य की गर्म बूंदों का अहसास मेरी जाँघों पर हुआ.